गुरुवार, 10 मार्च 2016

कौन सा एप्स आपका बैटरी खाता है

ओह नो! अभी तो चार्ज किया था, अब क्या हो गया इसको? यार ये कैसा मोबाइल है कि चार्ज करते ही बैटरी खा जाता है? ओफ्फो! मैं तो तंग आ गया हूं इसकी बैटरी से।

ये कुछ बेहद आम समस्याएं और सवाल हैं जिनसे आजकल ज्यादातर मोबाइल यूजर्स को दो-चार होना पड़ रहा है। जाहिर सी बात है बिना बैटरी के स्मार्टफोन का क्या यूज?

अपने फोन की बैटरी लाइफ को लेकर समस्याओं और सवालों से घिरे आप तब और हैरान होने वाले हैं जब आप बैटरी लाइफ को कमजोर करने वाली हकीकत से वाकिफ होंगे।
फेसबुक ऐप बना बैटरी का दुश्मन!

डेलीमेल की खबर के मुताबिक मोबाइल की बैटरी का सबसे बड़ा दुश्मन कोई और नहीं आपका चहेता ऐप फेसबुक है। दरअसल, फेसबुक ऐसा ऐप है जो मोबाइल बंद करने के बाद भी चलता रहता है।

खासबात ये भी है कि खुद फेसबुक ने इस बात को स्वीकार किया है। फेसबुक की तरफ से कहा गया है कि कंपनी इस समस्या का हल ढूढ़ने की पुरजोर कोशिश में लगी है। जल्द ही समस्या को सुलझा लिया जाएगा।

मोबाइल जानकारों की मानें तो फेसबुक का आईफोन ऐप हर वक्त बैटरी से पावर लेता रहता है। इस समस्या का पता तब चला जब यूजर्स ने ऐप के लिए होने वाली बैटरी की खपत का पता लगाने के लिए आईओएस 9 टूल को इस्तेमाल किया।
अपने मोबाइल से करें कमाई बिना पैसा खर्च किये

फेसबुक के एक प्रवक्ता ने टेकक्रंच से कहा कि हमें कई लोगों से हमारे आईओएस ऐप के लिए शिकायतें मिल रही हैं। हमें उम्मीद है कि हम जल्द ही इस समस्या से निजात पा लेंगे।
फेसबुक ने जल्द समस्या हल करने को कहा

मोबाइल न्यूज ऐप सरका के को-फाउंडर मैट गैलीगन ने सबसे पहले इस समस्या के बारे में उंगली उठाई थी।

मैट गैलीगन के मुताबिक हफ्ते भर में बैटरी के लिए भूखे फेसबुक ऐप ने उनके फोन से 15 फीसदी पॉवर को हजम कर लिया। जबकि उन्होंने ऐप को डिसेबल कर रखा था।

उन्होंने कहा कि शुक्र है कि आईओएस9 के जरिए हम ये देख सकते हैं कि कौन ऐप कब और कितनी पावर की खपत करता है।

आईओएस डिवेलपर जोनाथन जिआर्सकी ने भी इस समस्या के लेकर खेद जताया है। उन्होंने ट्वीट किया कि इस अकेले फेसबुक की वजह से सामने आई इस समस्या का जल्द से जल्द हल होना चाहिए। उन्होंने यूजर्स से कहा कि जब भी कभी ऐसी कोई और समस्या आए तुरंत आगाह करें।amarujala